-->

Full Form Of SDM In Hindi | SDM कैसे बनें? | वेतन और Power क्या है?

Full Form of SDM
Full Form of SDM

Full Form of SDM
एसडीएम ( SDM ) का पूर्ण रूप है उप डिवीजनल मजिस्ट्रेट ( Sub Divisional Magistrate ) एक जिले को उपखंडों ( subdivisions ) में विभाजित किया गया है। प्रत्येक उपखंड या तहसील एक एसडीएम, एक प्रशासनिक अधिकारी के नेतृत्व में होता है जो कभी-कभी जिले के स्तर से नीचे होता है, जो देश के सरकारी ढांचे पर निर्भर करता है।

एसडीएम एक कार्यकारी मजिस्ट्रेट और कलेक्टर की शक्तियों का आनंद लेता है। एक SDM भारतीय प्रशासनिक सेवा का जूनियर सदस्य या अधीनस्थ पदों पर प्रासंगिक अनुभव के साथ राज्य सिविल सेवा का वरिष्ठ सदस्य हो सकता है। वह आपराधिक प्रक्रिया संहिता 1973 और कई अन्य छोटे कृत्यों के तहत विभिन्न मजिस्ट्रेटी कार्य करता है।

एसडीएम आमतौर पर पीसीएस रैंकिंग का एक अधिकारी होता है। सभी उपखंड (तहसील) एसडीएम (Sub Divisional Magistrate) के प्रभार में हैं। उनका अपने उपखंड के तहसीलदारों पर सीधा नियंत्रण होता है और जिले के जिला अधिकारी और उनके उपखंड के तहसीलदारों के बीच पत्राचार के चैनल के रूप में कार्य करता है।

भारत में, एक सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट के पास आपराधिक प्रक्रिया संहिता 1973 के तहत कई कार्यकारी और मजिस्ट्रेटी भूमिकाएँ होती हैं।

SDM (Sub Divisional Magistrate) के सामान्य कार्य

full form of SDM के बाद अब बारी आती है एसडीएम की कुछ सामान्य जिम्मेदारियों की जो इस प्रकार हैं: राजस्व कार्य, चुनाव कार्य, वाहनों का पंजीकरण, विवाह का पंजीकरण, ड्राइविंग लाइसेंस का नवीनीकरण, शस्त्र लाइसेंस जारी करना और नवीनीकरण करना और एससी / एसटी, ओबीसी के प्रमाण पत्र जारी करना आदि। एक SDM आपराधिक प्रक्रिया संहिता 1973 और कई अन्य नाबालिग कृत्यों के अंतर्गत विभिन्न मजिस्ट्रेट का कार्य करते है।

SDM बननें हेतु क्या शैक्षिक योग्यता होनी चाहिए

इस प्रशासनिक पद पर आवेदन करने के लिए अभ्यर्थी को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक (Graduate) उत्तीर्ण होना आवश्यक है, स्नातक के अंतिम वर्ष के छात्र भी इस पद के लिए आवेदन कर सकते है।

SDM बनने के लिए आयु सीमा (Age Limitation)

सभी अभ्यार्थियों की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु सामान्य वर्ग के लिए 40 वर्ष, एससी/एसटी/ओबीसी के लिए 45 वर्ष और  PWD के लिए 55 वर्ष निर्धारित की गयी है। जो अभ्यर्थी इस आयु वर्ग के दायरे मे आते हैं वो अभ्यर्थी अपनी इच्छानुसार परीक्षा में सम्मिलित हो सकते है।

SDM Officer बननें हेतु परीक्षा

एसडीएम को उप प्रभागीय न्यायाधीश भी कहते है, सभी जिलो में एक एसडीएम अधिकारी नियुक्त होता है, अभ्यर्थियों को SDM बननें हेतु दो विकल्प उपलब्ध है, पहला विकल्प राज्य स्तर सिविल सेवा परीक्षा और दूसरा विकल्प राज्य लोक सेवा आयोग के माध्यम से इस पद पर नियुक्ति प्राप्त कर सकते है, इन विकल्पों के अंतर्गत अभ्यार्थीयों को निम्न तीन प्रक्रियाओं में सम्मिलित होना होता है |
  • प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary examination)
  • मुख्य परीक्षा (Main examination)
  • इंटरव्यू (Interview)

SDM का वेतन ( Salary of SDM )

एसडीएम अधिकारी को वेतन ग्रेड पे 5400 के अनुसार दिया जाता है, न्यूनतम वेतन  53,100 रुपए और 67,700 रुपये तथा अधिकतम 1,03,314 रुपये प्राप्त होता है।

Related Post

Post a Comment